पथरी का रामबाण उपाय,मात्र 5 दिन में

पथरी का रामबाण उपाय,मात्र 5 दिन में

37
0
SHARE
Pathari's panacea, in just 5 days

पथरी का रामबाण उपाय,मात्र 5 दिन में 21mm तक की पथरी गला सकते हैं वो भी सिर्फ 40 रुपये के खर्च में..

भारतीय देन आयुर्वेद के इस्तेमाल से बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज कम समय और और कम पैसो में किया जा सकता हैIआधुनिक डॉक्टरों का मानना है कि वर्तमान समय में गॉल ब्लेडर कि पथरी का कोई इलाज मौजूद नहीं हैI लेकिन इस आयुर्वेदिक उपाय से हजारों मरीजों का सफल इलाज किया जा चुका है,यही इलाज करने के लिए डॉक्टर मरीज से 5000 -10000 तक रुपये ले लेते हैं जबकि इसकी वास्तविक कीमत मात्र 30 -40 रूपये तक ही है. इसका उपाय हम गाल ब्लैडर और किडनी के पथरी को निकलने में कर सकते हैं.इस उपचार का उपयोग जिन लोगो पर किया गया वह देश कि मानी जानी हस्तियों में से थे,जैसे कि डॉक्टर बिन्दू प्रकाश मिश्रा जो कि वर्तमान समय में महर्षि दयानन्द कॉलेज मुंबई में गणित के प्रोफेसर हैं.और वह यूनिवर्सिटी के सदस्य भी हैं,इनके शरीर में 8 साल से 21 mm कि पथरी गाल ब्लैडर में थी जिसकी वजह से उन्हें भयानक पीड़ा होती थी.डॉक्टरों ने इन्हे ऑपरेशन कराने कि सलाह दी लेकिन इन्होने आयुर्वेद को मान्यता दी और इन्होने आयुर्वेद का सेवन किया और 5 दिनों के अंदर ही इनकी पथरी पूरी तरह गल कर ख़त्म हो गयी.

गॉल ब्लेडर की पथरी को जड़ से ख़त्म करने वाली चमत्कारिक दवा:

आप भी इस दवा का नाम जानने के लिए उत्साहित हो रहे होंगे,हम आपको बता दे यह दवा कुछ और नहीं बल्कि गुड़हल के फूलों से बना एक पाउडर हैIगुड़हल का फूल हर जगह बड़ी आसानी से मिल जाता है अगर फूल न मिले तो किसी भी पंसारी कि दुकान से इसका पाउडर खरीद लीजिये. अगर वहां भी न मिले तो आप इसे गूगल पर सर्च कर सकते हैं और इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं.आप अगर ऑनलाइन खरीद रहे हो तो याद रहे कि ऑर्गैनिक गुड़हल का पाउडर मिल जाये तो और भी अच्छी बात होगी.क्यूंकि यह पाउडर इस बीमारी के लिए सबसे असरदार होता है.

प्राकृतिक उपायों की मदद से पथरी को निकाला जा सकता है

आमतौर पर शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर ना निकल पाने की वजह से किडनी में समस्या होने लगती हैं। सही तरीके से काम करने और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने के लिए किडनी को सही मात्रा में पानी की जरुरत होती है। जब सही मात्रा में पानी नहीं मिलता है तो किडनी में पथरी बनने लगती है। किडनी स्टोन काफी कठोर होती है यह किडनी या यूरिनरी ट्रैक्ट में खनिज एकत्रित हो जाने की वजह से होते हैं। हालांकि प्राकृतिक उपायों की मदद से पथरी को निकाला जा सकता है। इसके लिए आज हम आपको 5 ऐसे घरेलू नुस्‍खों के बारे में बता रहे हैं।

लेमन जूस और ऑलिव ऑयल

लेमन जूस और ऑलिव ऑयल को मिलाकर उसका सेवन गॉलब्लेडर के स्टोन के लिए किया जाता रहा है लेकिन किडनी के स्टोन में भी ये काफी कारगर है। नींबू के रस में मौजूद सिट्रिक एसिड कैल्शियम बेस वाले स्टोन को तोड़ने का काम करता है और दोबारा बनने से भी रोकता है। इस मिश्रण को बनाने के लिए नींबू के रस और ऑलिव ऑयल को बराबर मात्रा में लेकर मिला लें और दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करें।

अनार का जूस

अनार का जूस और उसके बीज दोनों में ही एस्ट्रीजेंट गुण होता है जो कि किडनी के स्टोन के इलाज में मददगार है। यदि आपकी किडनी में है तो प्रतिदिन एक अनार खाना या फिर उसका जूस पीना फायदेमंद हो सकता है। इसके अलावा अनार को फ्रूट-सलाद में भी मिलाकर खाया जा सकता है।

व्हीट ग्रास

व्हीट ग्रास को पानी में उबालकर ठंडा कर लें। इसके नियमित सेवन से किडनी के स्टोन और किडनी से जुड़ी दूसरी बीमारियों में काफी आराम मिलता है। इसमे कुछ मात्रा में नींबू का रस मिलाकर पीना और बहतर हो सकता है।

पार्सले वाटर

इसे बनाते समय खीरे और नींबू का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है। पार्सले कैल्शियम ऑक्सलेट को एकत्रित होने से रोकता है जिससे पथरी आसानी से बाहर निकल जाती है। इसे बनाने के लिए पार्सले की पत्तियां, 1 नींबू और आधा खीरा लें। पार्सले की पत्तियों को 15 मिनट तक पानी में उबाल लें। उसे ठंडा होने के बाद उसमें छीलकर काटा हुआ खीरा और नींबू का रस मिलाएं। अब इसे ठंडा होने के लिए रख दें। ठंडा होने के बाद इसे छानकर पी लें।

पार्सले और सेब का सिरका

सेब का सिरका हाइड्रोक्लोरिक एसिड का उत्पादन करने में मदद करता है जो किडनी में पथरी होने से रोकथाम करता है। इसके साथ ही ऑलिव ऑयल ल्यूबरिकेंट की तरह काम करता है पथरी को बाहर निकालने में मदद करता है। इसे बनाने के लिए पार्सले, 1 कप पानी, 1 चम्मच सेब का सिरका और कुछ बूंदे ऑलिव ऑयल लें। इसे बनाने के लिए सभी चीजों को मिलाकर ब्लैंड कर लें। अब इसे छानकर पी लें। अगर यह ज्यादा गाढ़ा है तो इसमें पानी मिला सकते हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY