Home Womens Health पीरियड्स खुलकर न आने के कारण, लक्षण और घरेलू इलाज

पीरियड्स खुलकर न आने के कारण, लक्षण और घरेलू इलाज

869
2
SHARE
light-period-causes-symptoms-and-home-treatment-in-hindi
महिलाओं में मासिक धर्म होना एक प्राकृतिक प्रक्रिया है। आमतौर पर प्रत्येक 21 से 35 दिनों के बीच की अवधि में महिलाओं को मासिक धर्म होता है और यह 2 से 6 दिनों तक रहता है। हालाकिं मासिक धर्म की अवधि समय और परिस्थितियों के साथ बदलती रहती है। जैसे कि कमजोरी, तनाव, एनीमिया सहित कई अन्य शारीरिक समस्याओं के कारण मासिक धर्म प्रभावित होता है। इस कारण किसी महीने में सामान्य ब्लीडिंग होती है तो किसी महीने में महिला को पीरियड खुलकर नहीं आता है। यदि आप भी मासिक धर्म खुलकर न आने (Lighter periods) की समस्या से परेशान हैं तो इस लेख में हम पीरियड खुलकर न आने के कारण, लक्षण और घरेलू उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं।

पीरियड खुलकर न आने के कारण – Causes Of A Light Period In Hindi

माना जाता है कि खराब जीवनशैली और दिनचर्या के कारण महिलाओं का मासिक धर्म प्रभावित होता है। लेकिन इसके अलावा भी ऐसे बहुत से कारण है जिसकी वजह से पीरियड खुलकर नहीं आता है। आइये जानते हैं मुख्य कारणों के बारे में।

खराब खानपान के कारण पीरियड का खुलकर न आना

महिलाओं के मासिक धर्म पर खानपान का असर अधिक पड़ता है। सही तरीके से भोजन न करने पर वजन घट जाता है और मासिक धर्म को रेगुलेट करने वाले हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं जिससे पीरियड खुलकर नहीं आता है।

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) के कारण पीरियड्स में ब्लीडिंग कम होना

जब अंडाशय में अंडे परिपक्व नहीं हो पाते हैं तो अनियमित और लाइट ब्लीडिंग की समस्या हो जाती है जिसके कारण महिला बांझ भी हो सकती है।

How to Increase Breast Size Naturally in Hindi And English

पर्याप्त नींद न लेने के कारण पीरियड्स में ब्लड कम आना

आठ से नौ घंटे की स्वस्थ नींद न लेने के कारण शरीर पर्याप्त मात्रा में कार्टिसोल का उत्पादन करता है। यह एक स्ट्रेस हार्मोन है जो मासिक धर्म को प्रभावित करता है।

वजन के कारण पीरियड में ब्लड का कम आना

शरीर का वजन और वसा का प्रतिशत मासिक धर्म को प्रभावित कर सकता है। यदि किसी लड़की या महिला का वजन बहुत कम है तो उसके हार्मोन सामान्य रूप से काम नहीं करते हैं और यदि वजन बहुत ज्यादा है तब भी हार्मोन मासिक धर्म को प्रभावित करते हैं जिसके कारण पीरियड खुलकर नहीं आता है।

क्या प्रेगनेंसी में पीरियड्स होते है

तनाव लेने के कारण पीरियड्स का खुल कर न आना

अधिक तनाव देने पर मस्तिष्क मासिक धर्म चक्र हार्मोन को बदल देता है जिसके कारण पीरियड खुलकर नहीं आता है। जब तनाव कम हो जाता है तब पीरियड फिर से सामान्य हो जाता है।

मासिक धर्म में कम रक्तस्राव के कारण अधिक एक्सरसाइज करना

जो महिलाएं लगातार भारी एक्सरसाइज या वर्कआउट करती हैं उन्हें भी पीरियड खुलकर नहीं आता है। एथलीट महिलाओं को शरीर का वजन घटाने का दबाव ज्यादा रहता है जिसके कारण वो एनर्जी ड्रिंक का अधिक से अधिक प्रयोग करती हैं जिससे पीरियड में खुलकर ब्लीडिंग नहीं होती है।

हार्मोन के असंतुलन के कारण मासिक धर्म में कम रक्तस्राव होना

महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन नामक हार्मोन एक साथ मिलकर मासिक धर्म को रेगुलेट करते हैं। लेकिन जब एक हार्मोन ज्यादा हो जाता है और दूसरा कम तो पीरियड खुलकर नहीं आता है।

प्रेगनेंट होने पर पीरियड्स में ब्लीडिंग कम होना

जब कोई महिला गर्भवती होती है तो योनि से हल्का खून निकलता है लेकिन रक्तस्राव खुलकर नहीं होता है इसे प्रत्यारोपण रक्तस्राव (implantation bleeding) कहते हैं। जब निषेचित अंडा गर्भाशय की परत से जुड़ जाता है तो इस तरह की ब्लीडिंग होती है।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here